अनलॉक 5: होटल, रेस्तरां के लिए महाराष्ट्र राज्य सरकार के नियमों की घोषणा की, बार 5 अक्टूबर से खोलने की अनुमति

0
4

कारों ने राज्य को बाधित कर दिया है और आर्थिक तनाव बढ़ा रहे हैं । महाराष्ट्र राज्य सरकार ने महाराष्ट्र राज्य के जनजीवन को बहाल करने के लिए तालाबंदी को आसान बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है। महाराष्ट्र सरकार ने रेस्टोरेंट और बार खोलने की मंजूरी दे दी है क्योंकि लंबे समय से मांग चल रही है। सरकार ने राज्य में यात्रियों की यातायात बहाल करने के लिए सरकार के स्वामित्व वाली रेलवे की स्थापना का भी फैसला किया है । राज्य सरकार ने भी बंबई के कोचों को आश्वस्त किया है। इस बीच राज्य सरकार ने अब होटल, बार और रेस्तरां खोलने के लिए नियमों की घोषणा की है।

Advertisement

महाराष्ट्र राज्य सरकार ने कुछ प्रतिबंधों को बनाए रखा था क्योंकि राज्य पिछले कुछ समय से राज्य में विकास बढ़ा रहा था । हालांकि अक्टूबर से कई वस्तुओं पर लगी पाबंदियां हटाने का निर्णय लिया गया। पिछले कुछ समय से प्रदेश में रेस्टोरेंट और बार खोलने की मांग की जा रही है। इसके बाद से प्रदेश में 5 अक्टूबर से रेस्टोरेंट और बार खोलने की अनुमति मिल गई है। हालांकि सरकार ने कुल क्षमता के 50 फीसद प्रवेश पर रोक लगा दी है।

पर्यटन विभाग की मुख्य सचिव श्रीमती वलसा नायर सिंह ने हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के विभिन्न रेस्टोरेंट और होटल एसोसिएशनों को पत्र लिखकर नियमों की जानकारी दी है। उन्होंने रेस्तरां (कैफे, कैंटीन, डाइनिंग हॉल, लाइसेंस प्राप्त खाद्य एवं पेय पदार्थ आउटलेट, होटल/रिसॉर्ट/क्लब आंतरिक या आउटडोर भागों) से भी आग्रह किया कि वे कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एसओपी में दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करें ।

नियम क्या हैं?

  • कर्मचारियों के बीच किसे रेस्तरां का दरवाजा खोलना चाहिए?
  • प्रवेश द्वार पर हर ग्राहक की जांच होनी चाहिए। ग्राहक को यह जांचकरचनी चाहिए कि उसके कोरोना के लक्षण हैं या नहीं।
  • केवल उन ग्राहकों को प्रवेश करने की अनुमति दी जानी चाहिए जिनके पास संकेत नहीं हैं।
  • ग्राहकों को सेवाएं देते समय सामाजिक दूरी का पालन किया जाना चाहिए।
  • होटल और रेस्तरां में आने वाले ग्राहकों का रिकॉर्ड रखें।
  • बिना मास्क के किसी भी ग्राहक को अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। भोजन का सेवन करते समय केवल मास्क की अनुमति होगी।
  • ग्राहकों को मास्क, दस्ताने और तत्काल हैवॉश जितनी बार संभव हो लाने के लिए आग्रह किया जाना चाहिए ।
  • प्रत्येक ग्राहक को सैनिटाइजर उपलब्ध कराया जाना चाहिए।
  • पैसे को स्वीकार करने के लिए अधिकतम डिजिटल तरीकों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए ।
  • जो व्यक्ति धन स्वीकार करता है, उसे लगातार सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • शौचालय या हाथ धोने की साइट का बार-बार निरीक्षण किया जाना चाहिए। उस जगह पर साफ-सफाई रखें।
  • कर्मचारियों और ग्राहकों से संपर्क कम होना चाहिए।
  • सीसीटीवी कैमरे चालू होने चाहिए।
  • मुंबई में होटल रेस्तरां शुरू करने से पहले पंजीकरण कराना होगा।
  • ग्राहकों को निर्दिष्ट संख्या पर पहुंच से वंचित किया जाना चाहिए ।
  • दो टेबल के बीच एक सुरक्षित दूरी होनी चाहिए।
  • टेबल और किचन की समय-समय पर सफाई करनी चाहिए।
  • कर्मचारियों को आवधिक मेडिकल टेस्ट या कोरोना टेस्ट भी कराना होगा। यदि आवश्यक हो तो कोरोना सहायता संपर्क केंद्र से संपर्क करें।
  • बैठने से पहले प्लेट, चश्मा, मेन्यू कार्ड, टेबल टोब टॉप या कुछ भी नहीं होना चाहिए। नैपकिन की जगह फटे कपड़े का इस्तेमाल करें।
  • क्यूआर कोड के रूप में मेन्यू कार्ड देने की कोशिश करें।
  • सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए जमीन पर निशान भी बनाए जाने चाहिए।
  • जितनी बार हो सके एसी का इस्तेमाल करने से बचें। जरूरत पड़ने पर इसकी सफाई करते रहें।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here